Home City News अब रेत ढोने वाले ट्रकों पर लगाए जाएंगे जीपीएस डिवाइज

अब रेत ढोने वाले ट्रकों पर लगाए जाएंगे जीपीएस डिवाइज

20
0
SHARE

नागपुर. जिले में अवैध रेत उत्खनन पर नकेल कसने के लिए ड्रोन हवाई सर्वेलंस का काफी असर देखा जा रहा है। इसी कड़ी में अब जिला प्रशासन की ओर से अवैध रेत उत्खनन की रोकथाम के मद्देनजर रेत निकालने वाले टिप्परों पर जीपीएस लगाए जाने का क्रम शुरू किया गया है। फिलहाल 15 टिप्परों पर जीपीएस उपकरण लगाए गए हैं। आने वाले समय में इसे सभी नीलाम रेत घाटों पर अनिवार्य किया जाएगा। लिहाजा 150 टिप्परों पर यह जीपीएस प्रणाली पूरी तरह से लगाए जाने का लक्ष्य है।

जिला खनिकर्म विभाग के वरिष्ठ भू-वैज्ञानिक श्रीराम कडू ने बताया कि अवैध रेत उत्खनन की रोकथाम के िलए जीपीएस ट्रैकिंग चिप लगाई जा रही है। आने वाले समय में सारे टिप्परों पर यह लगाई जाएगी। केवल यही नहीं अगले माह रेत घाटों की नीलामी होगी। नीलामी में रेत घाट पाने वालों के करारनामें में सभी टिप्परों में जीपीएस लगाने की शर्त अनिवार्य रूप से रखी जाएगी। इस जीपीएस प्रणाली से ऑनलाइन ढंग से मैप पर तहसीलदार से लेकर जिलाधिकारी कार्यालय में अधिकारी निगरानी रख सकेंगे।
अगले माह होगी नीलामी
नागपुर जिले में 60 रेत घाट हैं जिसमें से 31 घाटों पर उत्खनन चल रहा है। अगले माह नए सिरे से रेत घाटों की नीलामी की जाएगी। जिसमें पहले चरण में 22 रेत घाटों को नीलामी के िलए रखा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here