Home Global News इस पाकिस्तानी ने आज ही बनाया था ऐसा रिकॉर्ड, जिसे टूटने में...

इस पाकिस्तानी ने आज ही बनाया था ऐसा रिकॉर्ड, जिसे टूटने में लग गए 17 साल

142
0
SHARE

नई दिल्ली, [जागरण स्पेशल]। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी को दुनिया के सबसे धुआंधार बल्लेबाज़ों में से एक माना जाता रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि इस खिलाड़ी ने अपनी पहली ही वनडे पारी में ऐसा रिकॉर्ड बना दिया था, जिसे तोड़ने में 17 साल का समय लग गया। जी हां, सही पढ़ा आपने 17 साल। 4 अक्टूबर 1996 को अपने वनडे करियर का दूसरा मैच खेल रहे शाहिद अफरीदी ने श्रीलंका के खिलाफ नैरोबी में सिर्फ 37 गेंदों में शतक जमाकर अंतरराष्ट्रीय मैचों का सबसे तेज़ शतक जमा दिया था। आज अफरीदी की इस पारी को 21 साल हो गए हैं, लेकिन अब भी क्रिकेट फैंस उस पारी को नहीं भुला पाए हैं।
पहली पारी में बनाया बड़ा रिकॉर्ड
आपको जानकर हैरानी होगी कि जिस मैच में अफरीदी ने ये रिकॉर्ड बनाया वो अंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय मैचों में उनकी पहली पारी थी। लेकिन ये मैच उनका दूसरा वनडे मैच था। इसी टूर्नामेंट में डेब्यू करने वाले अफरीदी ने अपना पहला मैच जिम्बाब्वे के खिलाफ खेला था, लेकिन उस मुकाबले में उन्हें बल्लेबाज़ी करने का मौका ही नहीं मिला और दूसरे मैच में जब वो मैदान पर उतरे तो इतिहास रचकर ही वापस लौटे।

जयसूर्या के रिकॉर्ड को किया ध्वस्त
शाहिद अफरीदी के 37 गेंदों में शतक से पहले वनडे क्रिकेट में सबसे तेज़ सेंचुरी का रिकॉर्ड सनथ जयसूर्या के नाम था। अफरीदी ने जयसूर्या के 48 गेंदों पर लगाए गए इस शतक को उन्हीं की टीम के खिलाफ सेंचुरी लगाकर तोड़ दिया था। इस मुकाबले में शाहिद अफरीदी सिर्फ 40 गेंदों में 102 रन की पारी खेलकर आउट हो गए, लेकिन अपना विकेट गंवाने से पहले उन्होंने 06 चौके और 11 छक्के भी जड़े। इस पारी में अफरीदी ने 255.00 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए थे। सनथ जयसूर्या ने इसी साल यानी 1996 में 48 गेंदों में सेंचुरी लगाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था। जयसूर्या ने पाकिस्तान के ही खिलाफ सिंगापुर में ताबड़तोड़ पारी खेली थी, लेकिन अफरीदी ने 6 महीने बाद ही जयसूर्या के इस रिकॉर्ड को तोड़ डाला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here