Home Health सेहत को स्वस्थ बनाए गरम मसाला

सेहत को स्वस्थ बनाए गरम मसाला

81
0
SHARE
Janvani News

भारतीय रसोई में भोजन का स्वाद को दुगुना करनें के लिए गरम मसाले का उपयोग किया जाता है। गरम मसालें में उन मसालो का मिश्रण होता हैं, जिनका उपयोग हम एकल रुप से भी करते है। विभिन्न क्षेत्रो की जलवायु के मुताबिक और पसंद के मुताबिक गरम मसालें का तरीका और स्वाद में भिन्नता पाई जाती है। गरम मसाले में इलायची, काली मिर्च, जीरा, लौंग, जीरा, दालचीनी व लवंग जैसे कई मसालों से मिलकर बनाया जाता है। ये मसालें हमारे स्वास्थ्य के लिए अतिआवश्यक होते है। इनके सेवन से कई तरह के रोगो को शरीर से दूर रखा जाता है। आयुर्वेद में भी इनसे होने वाले कई गुणों का उल्लेख किया जाता है। साथ ही कई ऐसे उपायों का विवरण भी पाया जाता है जिन्हें घरेलू नुस्खों में काम में लिया जाता है। इसलिए भोजन में उनके मुताबिक गरम मसाले का उपयोग करना काफी लाभप्रद सिध्द होता है। तो आइए जानते है इसके उपयोग से स्वास्थ्य पर पड़ने वाले असरकारक लाभों के बारे में।  डायबिटीज : यह शरीर में इंसुलिन की मात्रा को कंट्रोल करता है। इसलिए डायबिटीज कंट्रोल करनें में मददगार साबित होता है। इसका रोजमर्रा में सेवन करनें से शरीर में इंसुलिन का स्तर कंट्रोल कर सकते है।  माइग्रेन : इसमें पाया जाने वाला एंटीऑक्सीडेंट्स माइग्रेन की समस्या को दूर करनें में सहायक होता है।  एनीमिया में असरकारक : विभिन्न मसालों से बने गरम मसाले में आयरन की मात्रा प्रचुर मात्रा में पाई जाती है। जो एनीमिया को शरीर से दूर करनें में लाभदायक होती है। यह शरीर में खून की कमी को भी दूर करता है। इसके साथ ही अपने भोजन में पौष्टिक आहार को शामिल करें। जो शरीर की आवश्यकताओं की पूर्ति करनें में सहायक होते है।  तनाव : इसके भोजन में सेवन करनें से शरीर में रक्त संचार अच्छी तरह से होता है। जो तनाव दूर करनें में लाभप्रद सिध्द होता है। बल्ड प्रेशर : इसमें पौटेशियम की मात्रा में पाई जाती है। जो रक्तचाप को कंट्रोल करनें में फायदा देती है।  कब्ज : इसमें फाइबर की मात्रा होती है जो कब्ज दूर करनें में सहायक होता है।  दांत के दर्द से दे राहत : गरम मसाले में ओमेगा 6 फैटी एसिड्स होते है जो दांतो का दर्द दूर करनें में फायदेमंद होते है।  कैंसर : कैंसर जैसी घातक बिमारी में गरम मसालें में पाए जाने वाले अव्यव अपना असरकारक काम करते है। ये शरीर में कैंसर के रोगाणु को पनपने नहीं देते। इनमें फ्लेवेनॉइड्स होते है जो कैंसर से बचाने में मददगार होते है।  गठिया : इसमें पाया जानें वाला प्रोटिन, कैल्शियम मसल्स को मजबूत बनाते है। यह आर्थराइटिस में बड़ा फायदेमंद है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here