Home City News Home »Maharashtra »Nagpur» An Accident Averted At Nagpur Station नागपुर स्टेशन पर...

Home »Maharashtra »Nagpur» An Accident Averted At Nagpur Station नागपुर स्टेशन पर टला बड़ा हादसा, पटरी से हिचखोले खाती गुजरी संपर्क क्रांति एक्स

24
0
SHARE

खास बातें
320 लीटर क्षमता का एक रेफ्रिजेरेटर लगाया गया
बचा हुआ भोजन दान करने के लिए दी जा रही प्रेरणा
योजना का विस्तार करने के प्रयास जारी
कोलकाता: गरीबों और जरूरतमंदों के लिए यहां एक ‘फूड एटीएम’ की शुरुआत की गई है, जो कि बचे खानों से भरा 320 लीटर क्षमता का एक रेफ्रिजेरेटर है. इसके लिए पहल यहां के एक रेस्तरां के मालिक ने की है. सांझा चूल्हा रेस्टोरेंट समूह के सह-मालिक आसिफ अहमद ने ‘फूड एटीएम’ को तीन संस्थानों की मदद से शुरू किया है, जिसमें रोटरी, राउंड टेबल और जेआईटीओ शामिल हैं. इसे उनके पार्क सर्कस रेस्तरां के बाहर लगाया गया है, ताकि भोजन की बरबादी न हो और जरूरतमंदों को खाना खिलाया जा सके.

अहमद ने कहा, “यह एक पारदर्शी दरवाजे वाला रेफ्रिजेरेटर है, जिसका प्रयोग खाने को स्टोर करने में किया जाता है. हम अपने ग्राहकों को यह सिखा रहे हैं कि वे बचे हुए खाने को पैक कर दान कर दें. हमारे रेस्तरां के अलावा शहर के लोग भी खाना दान करने के लिए आ रहे हैं. इसमें बिरयानी और रोटी प्रमुख हैं. इसके साथ ही वे इसमें ताजा खाना भी रख रहे हैं.”

यह भी पढ़ें : बेंगलुरू में भूख से आज़ादी की पहल, इंदिरा कैंटीन में मिलेगा 10 रुपये में खाना

इस रेफ्रिजेरेटर के ऊपर एक प्ले कार्ड लगा है जिस पर लिखा गया है कि ‘जितना खाना एक साल में भारत में बरबाद होता है, उससे मिस्र की आबादी को एक साल तक खाना खिलाया जा सकता है.’
नागपुर. मुजफ्फरनगर (उत्तर प्रदेश) के खतौली में हुए ट्रेन हादसे को अभी लोग भुला नहीं पाए हैं कि यहां नागपुर रेलवे स्टेशन पर बड़ी लापरवाही सामने आई। मंगलवार की शाम गंतव्य की ओर 12649 यशवंतपुर-निजामुद्दीन संपर्क क्रांति एक्सप्रेस टूटी पटरी से गुजर गई। गाड़ी के आखिरी 3 कोच निकलने बाकी थे। पूरी तरह से पटरी क्षतिग्रस्त हो जाने से पीछे के तीन डिब्बे पटरी लेने की अवस्था में आ गए थे। परंतु हादसा टल गया। तेज आवाज व हिचखोले खाते डिब्बों को देख प्लेटफार्म पर खड़े टीटीई जितेंद्र हत्थेल का माथा ठनका। झुककर देखा तो पटरी क्षतिग्रस्त दिखी। सूचना मिलते ही पीछे से आनेवाली एक्सप्रेस ट्रेन को रोकते हुए दूसरे प्लेटफार्म पर लिया गया। रोज की तरह स्टेशन पर शाम 5.50 को प्लेटफार्म नंबर एक पर 12649 यशवंतपुर – निजामुद्दीन संपर्क क्रांति एक्सप्रेस पहुंची थी।

पांच मिनट बाद गाड़ी गंतव्य की ओर बढ़ी। इटारसी एंड की ओर जाते वक्त अचानक तेज आवाज हुई। गाड़ी की पिछली तीन बोगियां हिचखोले खाने लगीं। प्लेटफार्म पर खड़े दपूम रेलवे के टीटीई जितेंद्र हत्थेल का इस ओर ध्यान गया। उन्होंने प्लेटफार्म से झुककर देखा। पटरी क्षतिग्रस्त हो गई थी। पीछे से आनेवाली 12833 अहमदाबाद एक्सप्रेस को इसी प्लेटफार्म पर आने का सिग्नल मिल गया था। ऐसे में जितेन्द्र भागते-दौड़ते उपस्टेशन व्यवस्थापक के पास पहुंचे। यहां प्रवीण रोकडे मौजूद थे। तुरंत उनको घटना की जानकारी दी। तुरंत आउटर उपस्टेशन प्रबंधक को इसकी जानकारी दी गई। इसके बाद गाड़ी को प्लेटफार्म नंबर 6 पर लिया गया। इसके बाद मरम्मत कार्य शुरू किया गया।
सड़ रहे स्लीपर
नागपुर रेलवे स्टेशन पर वर्षों पहले बने प्लेटफार्म पर लगे लकड़ी के स्लीपर आज पूरी तरह से सड़ चुके हैं। ऐसे में इस पर गाड़ी कभी-भी बेपटरी होने की बात को लेकर दैनिक भास्कर ने खबर भी प्रकाशित की थी। उस समय पटरियां पूरी तरह ठीक होने का दावा वरिष्ठ अधिकारियों ने किया था। ऐसे में अचानक पटरियों का टूट जाना अधिकारियों की लापरवाही दर्शा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here