Home Health किडनी की परेशानी से बचाएंगे ये 8 आसान RULE

किडनी की परेशानी से बचाएंगे ये 8 आसान RULE

68
0
SHARE
Janvani News

हमारे शरीर में दो किडनी होती हैं। किडनी में खराबी किसी भी उम्र हो सकती है। इसके दो प्रमुख कारण- डायबिटीज और हाईब्लड प्रेशर हैं। इसके अलावा दिल का रोग भी एक कारण होता है। ऐसे में किडनी संबंधी रोग से बचने का उपाय तो अपनाएं ही, साथ ही आठ ऐसे नियम हैं, जिन्हें किडनी की बीमारी से बचा जा सकता है।  एक ताजा अनुमान है कि 17 प्रतिशत शहरी भारतीय किडनी के रोग से पीड़ित हैं। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के अध्यक्ष डॉ. के.के. अग्रवाल ने कहा कि किडनी के क्षतिग्रस्त होने का पता लगाने के लिए पेशाब की जांच और किडनी कैसे काम कर रहे हैं, इसके लिए रक्त की जांच की जाती है। पेशाब की जांच से एल्बुमिन नामक प्रोटीन का पता चलता है, जो सेहतमंद किडनी में मौजूद नहीं होता।

उन्होंने बताया कि रक्त जांच ग्लूमेरुलर फिल्ट्रशन रेट की जांच करता है। यह किडनी की फिल्टर करने की क्षमता होती है। 60 से कम जीएफआर किडनी के गंभीर रोग का संकेत होता है। 15 से कम जीएफआर किडनी के फेल होने का प्रमाण होता है।

डॉ. अग्रवाल बताते हैं कि किडनी की सेहत अच्छी बनाए रखने के लिए शरीर में पानी की उचित मात्रा रखनी होती है। इससे किडनी की लंबी बीमारी का खतरा बेहद कम हो जाता है। किडनी के रोग पाचनतंत्र के विकार और हड्डियों के रोग से जुड़े होते हैं और यह पेरिफेरल वस्कुलर रोगों, दिल के रोगों और स्ट्रोक जैसी बीमारियों के लिए बड़े खतरे का कारण होते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here