Home Health नाशपाती (pears) खाने के बेमिसाल फायदे

नाशपाती (pears) खाने के बेमिसाल फायदे

नाशपाती #pears का जूस पीने से तुरंत ही शरीर में ऊर्जा बढ़ती है। ऐसा इसलिये होता है क्‍योंकि इसमें ग्‍लूकोज होता है। नाशपाती में पक्‍टिन होता है जो कि कोलेस्‍ट्रॉल को कम करने में मदद करता है। इसका रस सभी को पीना चाहिये।

247
0
SHARE
http://janvaninews.com
नाशपाती में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन सी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने और जुकाम, फ्लू और संक्रमण से लड़ने में मदद करता हैं।

भारत में नाशपाती को उतनी लोकप्रियता नहीं मिली है जितनी की मिलती चाहिये। इस फल के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ इतने हैं कि आप गिनते-गिरते थक जाएंगे।

पाचन तंत्र को मजबूत बनाए

नाशपाती फाइबर का एक अच्छा स्त्रोत हैं जो पाचन तंत्र को मजबूत बनाता हैं। इसमें मौजूद पेक्टिन कब्ज और दस्त को ठीक कर सकता है। इसके जूस को रोजाना पियें।

एनीमिया से बचाए नाशपाती

आयरन का एक अच्छा स्त्रोत हैं जो हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाता हैं और एनीमिया से ग्रस्त रोगियों को सुरक्षा प्रदान करता हैं।

कोलेस्‍ट्रॉल से मुक्‍ती

नाशपाती में पक्‍टिन होता है जो कि कोलेस्‍ट्रॉल को कम करने में मदद करता है। इसका रस सभी को पीना चाहिये।

बुखार से छुटकारा

एक गिलास नाशपाती का रस पीने से जल्दी ही बुखार से राहत मिल सकता है। यह तपते हुए शरीर को ठंड कर देता है।

प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाए

नाशपाती में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन सी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने और जुकाम, फ्लू और संक्रमण से लड़ने में मदद करता हैं।

कैंसर से बचाव

इसमें कॉपर और विटामिन सी होता है, जिसे रोजाना खाने से कैंसर पैदा करने वाले फ्री रैडिकल्‍स क्षतिग्रस्‍त हो जाते हैं।

ऊर्जा बढाए

नाशपाती का जूस पीने से तुरंत ही शरीर में ऊर्जा बढ़ती है। ऐसा इसलिये होता है क्‍योंकि इसमें ग्‍लूकोज होता है।

सूजन कम करे

जिन लोगों को सूजन की वजह से दर्द होता है, उन्‍हें इसका रस पी कर काफी आराम हो सकता है।

 

हड्डियों के लिए फायदेमंद

नाशपाती में अधिक मात्रा में बोरोन होता है। बोरोन हड्डियों में कैल्शियम को बनाए रखने में मदद करता है। इसलिए नाशपाती का सेवन करने से आस्टियोपोरोसिस होने का खतरा नहीं होता।

हाई बीपी को कंट्रोल करे

नाशपाती में मौजूद पोटैशियम और ग्लूटाथिओन होते हैं जो कि एक प्रकार के एंटीऑक्‍सीडेंट हैं और रक्तचाप को कम करने तथा दिल के दौरे और स्ट्रोक के खतरे को कम करने में मदद करते हैं।

मधुमेह

प्रचुर मात्रा में फाइबर से युक्त नाशपाती मधुमेह रोगियों के लिये अच्‍छा होता है। इसकी शर्करा को खून धीरे-धीरे अवशोषित कर लेता है और फाइबर इसके स्तर को नियंत्रित रखता है।

आइये जानते है नाशपाती के कुछ औषधीय प्रयोग –

१- दस से बीस मिली नाशपाती फल के रस में शक़्क़र डालकर पीने से सिर के दर्द में लाभ होता है |

२- नाशपाती के फलों का सेवन करने से फेफड़ों के विकारों में लाभ होता है |

३- नाशपाती का सेवन करने से पाचनतंत्र से सम्बंधित बीमारियों में लाभ होता है |

४- दस से बीस मिली नाशपाती रस में एक से दो ग्राम बेलगिरी चूर्ण मिलाकर सेवन करने से खूनी दस्त में लाभ होता है

५- पंद्रह से बीस नाशपाती फल स्वरस में सेंधानमक,क- ली मिर्च तथा भुना हुआ जीरा मिलाकर पिलाने से अरुचि में लाभ होता है |

६- नाशपाती के मुरब्बे में २५० ग्राम नागकेशर चूर्ण मिलाकर सेवन करने से बवासीर में लाभ होता है |

७- नाशपाती के पत्रों को पीसकर त्वचा पर लगाने से त्वचा विकारों में लाभ होता है तथा घाव में लगाने से घाव जल्दी भरता है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here