Home Jyotish Vastu Ramnavami in navratri 2019: अष्टमी, नवमी तिथि को लेकर है असमंजस तो...

Ramnavami in navratri 2019: अष्टमी, नवमी तिथि को लेकर है असमंजस तो पढ़ें क्या कह रहे हैं ज्योतिषी

1028
0
SHARE

Ashtami and  sri rama navami date april in hindi : वासंतिक नवरात्र की अष्टमी के हवन और नवमी के कन्यापूजन की तिथि को लेकर लोगों में काफी असमंजस है। जिसका निदान ज्योतिषाचार्यों ने किया है। इस विषय पर ज्योतिषाचार्यों का कहना है कि माता के व्रत विशेष रुप से अष्टमी व्रत में उदया तिथि का नियम लागू नहीं होता। उसका आधार महानिशा के मध्य रात्रि से है। गुरुवार की मध्यरात्रि, महानिशा की रात होगी और उसी के आधार पर शुक्रवार को अष्टमी का व्रत रखा जाएगा। वहीं नवमी को होने वाला हवन और कन्या पूजन शनिवार को किया जाएगा।अष्टमी तिथि शनिवार को सुबह तक रहेगी और उसके बाद नवमी तिथि शुरू हो जाएगी। जो रविवार को सुबह तक रहेगी।

ज्योतिषाचार्य पंडित रमेश चंद्र शास्त्री ने बताया कि माता जी का व्रत विशेष रुप से अष्टमी जिसमें उदया तिथि का नियम लागू नहीं होता है।इस आधार पर कल दिन में अष्टमी तिथि लग जाएगी। इसतरह अष्टमी का व्रत शुक्रवार को रखा जाएगा और नवमी शनिवार की होगी।

ज्योतिषचार्य ऊषा पारीक ने बताया कि माता जी का व्रत विशेष रूप से अष्टमी जिसमें उदया तिथि का नियम नहीं लागू होता है। इसका आधार महानिशा की मध्य रात्रि होता है। इस आधार पर कल दिन में अष्टमी लग जाएगी।

ज्योतिषाचार्य अरविंद कुमार ने बताया कि 13 अप्रैल शनिवार को सूर्योदय काल छह से 11: 42 तक रहेगी। इसके बाद नवमी तिथि 11: 42 से शुरू हो जाएगी जो अगले दिन रविवार को प्रात: 9:36 बजे तक रहेगी। भगवान श्रीराम का जन्म नवमी तिथि में कर्क लग्न में हुआ था। अत: 13 अप्रैल को मध्याहृ काल में कर्क लग्न 11:34 बजे से 1:51 बजे तक रहेगी। इस दिन पुनर्वसू नक्षत्र सुबह 8: 59 बजे तक रहेगा। तत्पश्चात पुष्य नक्षत्र का शुभारंभ हो जाएगा। चंद्रमा कर्क राशि में रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here