Home Health स्ट्रॉबेरी (Strawberries) फल के फ़ायदे..

स्ट्रॉबेरी (Strawberries) फल के फ़ायदे..

स्ट्रॉबेरी #Strawberries फल के फ़ायदे..फाइबर से भरी हुई होती है, इसीलिए स्ट्रॉबेरी हमारी आतडीयों को स्वस्थ रख पाती है। एंथोसायनिन, एक लाल रंग का एंटीओक्सिडेंट भी स्ट्रॉबेरी में पाया जाता है, जिससे यह शरीर में जमा अतिरिक्त चर्बी को कम करता है।

296
0
SHARE

स्ट्रॉबेरी / Strawberries फल विशेषतः इसमें पाए जाने वाले सुगंध, गहरे लाल रंग, रसदार बनावट और मीठास के लिए प्रसिद्ध है। ज्यादातर लोग इसका उपयोग फलो के ज्यूस, पाई, आइस क्रीम, मिल्कशेक और चॉकलेट बनाने के लिये या तो सीधे इसका सेवन करते है । मानवनिर्मित स्ट्रॉबेरी फ्लेवर और सुगंध का ज्यादातर उपयोग बहुत से उत्पाद जैसे लिप ग्लोस, हैण्ड सेनीटायजर और परफ्यूम इत्यादि बनाने में होता है।

स्ट्रॉबेरी 1750 में फ्रांस में ब्रिटेनी की एक नस्ल के रूप में पायी गयी थी। पहले ज्यादा लोग इसका सेवन नही करते थे इस वजह से सिमित मात्रा में ही इसका उत्पादन किया जाता था लेकिन फिर बाद में कमर्शियल रूप से भी इसका उत्पादन किया गया।

आजा स्ट्रॉबेरी के सेवन से ज्यादा अच्छा और कुछ नही। उनका सौम्य, मीठा स्वाद और रसदार बनावट आपको निश्चित ही उनके प्यार में डुबो देंगा, इससे खाने से पहले इसका चटक लाल रंग देखकर ही आप इसे चाहने लगोंगे।

गुलाब के रंग से जुडी हुई, स्ट्रॉबेरी एकमात्र ऐसा फल है जिसमे बीज अंदर होने के बजाए बाहर होते है। स्ट्रॉबेरी की आकर्षण और महमोहक बनावट और रसीला स्वाद ही उसे सभी फलो में सबसे प्रसिद्ध और सबसे अलग बनाती है।

इस फल का पूरा आनंद लेने का सबसे सही तरीका सीधे इसका सेवन करने में है। इसका उपयोग आप आइस क्रीम, जेली, जैम, सिरप, चॉकलेट और इत्यादि खाद्य पदार्थो में भी कर सकते हो।

स्ट्रॉबेरी चाहे ताज़ी हो या स्टोर की हुई हो इसमें हमेशा आकर्षक स्वास्थकारी गुण होते है, जो निश्चित ही आपको आश्चर्यचकित करेंगे।

स्ट्रॉबेरी विटामिन C एवं K और साथ ही फोलिक एसिड, मैग्नीशियम, मैंगनीज और पोटेशियम का सबसे अच्छा स्त्रोत है। एक कप स्ट्रॉबेरी में 49 कैलोरी पाने के साथ ही इनमे शुगर भी कम होती है और डाइटरी फाइबर का भी यह अच्छा स्त्रोत है। साथ ही स्ट्रॉबेरी में फ़ायटोन्यूट्रीयंट और फ्लावोनोइड की अच्छी मात्रा पायी जाती है।

दुनिया भर में स्ट्रॉबेरी की तक़रीबन 600 से भी ज्यादा प्रजातियाँ है, और साथ ही यह सर्वाधिक एंटीओक्सिडेंट वाले फलो में भी शामिल है।

  1. स्वस्थ पाचनक्रिया और जमा की हुई चर्बी को कम करना :

स्ट्रॉबेरी फाइबर से भरी हुई होती है, इसीलिए स्ट्रॉबेरी हमारी आतडीयों को स्वस्थ रख पाती है। एंथोसायनिन, एक लाल रंग का एंटीओक्सिडेंट भी स्ट्रॉबेरी में पाया जाता है, जिससे यह शरीर में जमा अतिरिक्त चर्बी को कम करता है। इस बेहतरीन फल में नाइट्रेट भी पाया जाता हाउ, जो शरीर में ऑक्सीजन के प्रमाण को बढाता है और शरीर में रक्त प्रवाह को गति को विकसित करता है, जिससे आसानी से हमारा मोटापा कम हो जाता है।

  1. हड्डियों के स्वास्थ को विकसित करता है :

स्ट्रॉबेरी में पोटेशियम, मैग्नीशियम और विटामिन K पाया जाता हाउ, जो हमारी हड्डियों की ताकत बढ़ाने और उन्हें स्वस्थ रखने के लिए बहुत आवश्यक है।

  1. एसोफागेल कैंसर से बचाता है :

रिसर्च से यह पता चला है की छः महीनो तक सुखी स्ट्रॉबेरी के पाउडर में पानी मिलाकर पीने से कैंसर के 80% सेल्स कम हो जाते है, और इसमें एसोफागेल कैंसर को रोकने की क्षमता भी होती है।

  1. ह्रदय संबंधी बीमारियाँ कम होती है :

इसमें पाया जाने वाला फ्लावोनोइड हमारे शरीर में ह्रदय विकार के खतरे को कम करता है और साथ ही LDL कोलेस्ट्रॉल के प्रमाण को कम कर हाइपरटेंशन की समस्या भी दूर होती है। अभ्यास से तो यह भी पता चला है जो लोग रोज 2 से 3 स्ट्रॉबेरी का सेवन करते है उनमे ह्रदय विकार की समस्या 32% तक कम होती है।

  1. गठिया और गाउट का मुकाबला :

एंटीओक्सिडेंट से भरपूर स्ट्रॉबेरी आसानी से गठिया और गाउट जैसी बीमारियों से छुटकारा दिला सकती है। इस फल में वो सारे कंपाउंड पाए जाते है जो हमारे शरीर के दर्द को कम कर सके और मुक्त रेडिकल्स की वजह से होने वाली समस्या को कम कर सके। रिसर्च से यह भी पता चला है की जो महिलाये हफ्ते में 16 या उससे ज्यादा स्ट्रॉबेरी का सेवन करती है उनका सुजन स्तर काफी कम होता है। साथ ही खून में पाए जाने वाले CRP के प्रमाण को भी 14% तक कम करते है, जो सुजन बढ़ने के लक्षणों को दर्शाता है।

  1. फोलिक एसिड से भरा हुआ:

यह सुप्रसिद्ध फल आपके शरीर को फोलेट से भरता है, जो खाद्य पदार्थ के भीतर पाए जाने वाले फोलिक एसिड का महत्वपूर्ण भाग है। विटामिन B की पर्याप्त मात्रा शरीर में ना होने पर, आपको संवहनी रोग, अथेरोस्क्लेरोसिस और पाचन तंत्र में गड़बड़ जैसी बीमारियाँ हो सकती है।

  1. विशाल प्रतिरक्षा प्रणाली को विकसित करता है :

स्ट्रॉबेरी में ज्यादा मात्रा में विटामिन C (दैनिक आवश्यकता के अनुसार 113%) पाया जाता है, जो शरीर के लिए पर्याप्त से थोडा ज्यादा है, और ज्यादा होने की वजह से ही इसके दुसरे भी फायदे हमें होते है। तनावपूर्ण स्थिति में जब विटामिन C का उपभोग किया जाता है, तब असल में इसमें ब्लड प्रेशर को कम कर साधारण लेवल तक लाने की क्षमता होती है, जिससे हाइपरटेंशन की समस्या भी कम होती है।

  1. मस्तिष्क के कार्य को बढाता है :

एजिंग और मानवी शरीर को दूसरी बहुत सी समस्याओ के लिए अक्सर हम मुक्त रेडिकल्स को दोष देते है। असल में ये समस्याए दिमागी टिश्यू के कम होने और न्यूरोट्रांसमीटर के कमजोर होने की वजह से होती है। जबकि स्ट्रॉबेरी में पाए जाने वाले विटामिन C और फ़ायटोन्यूट्रीयंट इस परिस्थितियों में कुछ प्रतिक्रिया जरुर करते है। लोडिन, नाम का एक और न्यूट्रीयंट स्ट्रॉबेरी में प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, जो तंत्रिका तंत्र और दिमाग के कार्यो को विकसित करने में सहायक है। एंथोसायनिन में शोर्ट-टर्म मेमोरी लॉस को विकसित करने की भी क्षमता होती है।

  1. झुर्रियां भगाए /रिंकल एलिमिनेटर –

बायोटिन के साथ, जो तत्व अच्छे बालो और नाख़ून के लिए आवश्यक है वह स्ट्रॉबेरी में पाया जाता है, जिसमे एंटीओक्सिडेंट एल्लागिक एसिड पाया जाता है। जो हमारी शरीर के लचीले फाइबर की रक्षा करता है और हमारी त्वचा को जवां बनाता है।

  1. हाई ब्लड प्रेशर से लढता है :

स्ट्रॉबेरी में पाया जाने वाला पोटेशियम, वसोडीलेटर और मैग्नीशियम प्रभावशाली रूप से हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को दूर करते है। रोजाना स्ट्रॉबेरी का सेवन करने से यह केवल हाइपरटेंशन से ही नही बचाता बल्कि शरीर में रक्त प्रवाह के स्तर को बढाकर स्वस्थ ऑक्सीजन को शरीर में बढाता है। ताकि उच्च रक्तताप को नियंत्रित किया जा सके।

स्ट्रॉबेरी में इतने सारे गुण हैं, तो चलो स्ट्रॉबेरी खाना आज से सुरु करेंगे और जीवन में स्वस्थ रहेंगे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here